भारतीय राज्यों का नाम कैसे पड़ा?


आइए जानते हैं कि भारतीय राज्यों का नाम कैसे पड़ा। भारत अनेकता में एकता का एक उत्कृष्ट उदाहरण है। कई प्रकार के लोग और भाषाएं हैं जो कई राज्यों में विभाजित हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि भारतीय राज्यों का नाम कैसे और क्यों पड़ा?

आइए आज हम इन राज्यों के नामों के अर्थ को विस्तार से समझते हैं।

भारतीय राज्यों का नाम कैसे पड़ा?


भारतीय राज्यों का नाम कैसे पड़ा?

आंध्र प्रदेश:-
इस राज्य का नामदक्षिण प्रदेशकी भाषा को वहां की छेत्रिय भाषा में बदलकर रखा गया।

अरुणाचल प्रदेश:-
राज्य का नाम संस्कृत शब्द "अरुणाचल" के नाम पर रखा गया है, जिसका अर्थ है "पहाड़ों की रोशनी की शुरुआत" क्योंकि यहाँ  प्राकृतिक  सम्पदा की कोई कमी नहीं है।

असम:-
असम का नाम " अहोम्स " के नाम पर रखा गया है जो असम के शासक थे।

बिहार:-
बिहार का अर्थ है निवास, इसका मूल नाम बिहार इसलिए रखा गया क्योंकि यह बौद्ध भिक्षुओं द्वारा निवास बसा हुआ है।

छत्तीसगढ़:-
छत्तीसगढ़ को यह नाम इसलिए मिला क्योंकि राज्य में कुल 36 किले हैं।

गोवा:-
गोवा का नाम मूल गाय के नाम पर रखा गया था और माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति वहां से हुई थी।

गुजरात :-
गुजरात का नाम गुर्जर के नाम पर रखा गया है जिन्होंने 8वीं  शताब्दी में वहां शासन किया था।

हरियाणा:-
इस राज्य के नाम के दो अर्थ हैं, "प्रभुओं का घर" और  हरा जंगल 

हिमाचल प्रदेश:-
राज्य का नाम इसके पहले अक्षर के नाम पर रखा गया है, जो संस्कृत शब्द "हिमाचल" से आया है, जिसका अर्थ है " बर्फ की पहाड़ियों का घर" 

जम्मू और कश्मीर:-
इस राज्य के नाम पर जम्मू का नाम राजा जम्मू लोचन के नाम पर रखा गया और कश्मीर का अर्थ है पानी से भरी हुई भूमि।

झारखण्ड :-
इस राज्य के नाम का अर्थ है " झार " जिसका अर्थ है जंगल और " खंड " का अर्थ है धरती का एक टुकड़ा।

कर्नाटक:-
राज्य का नाम कॉर्नार्ड के नाम पर रखा गया है, जिसका अर्थ है बुलंद। यह मूल रूप से डेक्कन के पठार के नाम पर है। 

केरल:-
ऐसा माना जाता है कि इस राज्य को भगवान परशुराम ने समुद्र से निकाला था, जिसे बाद में केरल कहा गया।

मध्य प्रदेश:-
भारत के केंद्र में होने के कारण, राज्य का नाम मध्य प्रदेश रखा गया।

महाराष्ट्र:-
महाराष्ट्र राज्य के नाम का अर्थ है "महा" जिसका अर्थ है महान और "राष्ट्र" शब्द राष्ट्रिका जाति से लिया जाता है जो यहां शासन करती है। 

मणिपुर:-
संस्कृत शब्द पर पड़े इस राज्य के नाम का अर्थ है आभूषण युक्त राज्य।

मेघालय:-
संस्कृत शब्द से उत्पन्न होने वाले इस राज्य का नाम बादलों के वास वाला राज्य है। 

मिजोरम:-
मिजोरम राज्य को वहीँ की भाषा के शब्दों में रूपांतरित किया गया है जिसका अर्थ होता हैमीमतलब लोगजोमतलब ऊँची जगह।

नागालैंड:-
इस राज्य का शाब्दिक अर्थ "नागा" है जो नका शब्द से आया है जिसका अर्थ है जिसकी नाक कान छिदवाई हुई है।

ओडिशा:-
राज्य का नाम ओद्रा लोगों के नाम पर रखा गया है जो यहां रहते हैं। 

पंजाब:-
पंजाब का शाब्दिक अर्थ है पांच नदियों वाला राज्य।

राजस्थान:-
इस राज्य के नाम का शाब्दिक अर्थ है वह स्थान जहाँ राजा निवास करता है।

सिक्किम:-
सिक्किम का नाम वहीँ की क्षेत्रीय भाषा में रखा गया है जिसका अर्थ हैसीमतलब नया औरखिममतलब जगह।   

तेलंगाना:-
इस राज्य के नाम का शाब्दिक अर्थ है तीन शिवलिंगों वाला स्थान।

तमिलनाडु:-
तमिल बहुसंख्यक आबादी के कारण राज्य का नाम तमिलनाडु रखा गया है।

त्रिपुरा:-
इस राज्य का शाब्दिक अर्थ है "त्रि" यानि पानी और प्र यानि निकट।   

उत्तर प्रदेश:-
उत्तर में होने के कारण, राज्य का नाम उत्तर प्रदेश था।

वेस्ट बंगाल:-
यहाँ के अधिकांश बंगालियों के कारण राज्य का नाम वेस्ट बंगाल पड़ा।

नॉलेज गुरु को उम्मीद है कि ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए फायदेमंद भी साबित हो।


Post a Comment

If you have any doubt, please let me know.

[blogger]

Knowledge Guru

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget